लौकी खाने के क्या फायदे हैं?

लौकी जिसे आम भाषा में घीया के नाम से जाना जाता है जो भारतीय बाजारों में आसानी से उपलब्ध है लौकी अपने औषधीय गुण एवं स्वाद के लिए जाना जाता है, प्रति 100 ग्राम लौकी में 15 ग्राम कैलोरी पाया जाता है, इसके अलावा 100 ग्राम लौकी में 1 ग्राम फैट और 96 प्रतिशत  जलीय तत्व होते हैं।इसमें संतृप्त वसा तथा कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बहुत कम होती है और फाइबर, विटामिन c राइबोफ्लेविन, जिंक, थायमिन, आयरन, मैग्नीशियम तथा मैंगनीज की मात्रा बहुत अधिक होती है।

लौकी के फायदे क्या है

लौकी कैसे तमाम फायदे हैं जिनसे आज भी लोग अनभिज्ञ हैं लौकी की तासीर बिल्कुल ही ठंडी होती है और यह ह्रदय के लिए बेहद फायदेमंद होता है, इसके अलावा यह बालों को सफेद होने से बचाती है, रूसी (डैंड्रफ) दूर करती है, उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) कम करती है, मूत्रमार्ग का संक्रमण (यूटीआई – Urinary Tract Infection) दूर करती है, और एसिडिटी में राहत देती है। तो आइये जानते हैं, इसके फायदों के बारे में की लौकी के सेवन से हमें और कौन-कौन से फायदे हैं।

See also  विल्सन रोग क्या है और ये कैसे होता है ?

सुकून की नींद के लिए फायदेमंद है लौकी- यदि आप नियमित रूप से अपनी जीवनशैली में लौकी का इस्तेमाल करते हैं, तो आपको अनिद्रा की समस्या कभी नहीं होगी ऐसे में आपको तिल के तेल के साथ लौकी का सेवन करना चाहिए जो आपकी अनिद्रा की समस्या को दूर करता है और आप चैन की नींद सो पाते हैं।

सफेद बाल होने से बचाता है लौकी- आज के समय में बढ़ती पॉल्यूशन और खानपान में मिलावट की वजह से कम उम्र में युवाओं के बाल सफेद होने लगे ऐसे में सफेद जी को रोकने के लिए प्राकृतिक औषधि का इस्तेमाल करना बेहद जरूरी है ऐसे में अगर आप नियमित रूप से सुबह-सुबह लौकी के जूस का सेवन करते हैं तो आपको सफेद बाल की समस्या से निजात मिल सकता है।

तनाव की समस्या को दूर करता है लौकी- आजकल इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में लोग अपने जीवन शैली में बेहद ही तनाव भरा महसूस करते हैं ऐसे में वे अवसाद एंजायटी तनाव के शिकार हो रहे हैं आज युवा से लेकर बुजुर्ग तक सभी लोग तनाव की समस्या से जूझ रहे हैं, इसका मुख्य कारण उनका असंतुलित डाइट भी हो सकता है गौरतलब है कि लोकी में अत्यधिक जलीय तत्व मौजूद होते है जिससे हमारा मन और शरीर शांत और ठंडा रहता है। इसलिए हमें लौकी का किसी भी माध्यम से सेवन अवश्य करना चाहिए।

See also  पेट दर्द का घरेलू उपचार क्या है?

पाचन तंत्र को मजबूत बनाकर लौकी- कब्ज की समस्या से पीड़ित व्यक्ति को अधिक मात्रा में फाइबर युक्त भोजन करना चाहिए लोकी में पर्याप्त मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो मलाशय में अटके तत्वों को बाहर निकालने में हमारी मदद करता है क्योंकि उसमें छारीय गुण होते हैं इसलिए लोकी पाचन तंत्र को मजबूत बनाने में फायदा करता है।

वजन को नियंत्रित करता है लौकी- यदि आप सचमुच अपने वजन को कम करना चाहते हैं और लौकी आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण सब्जियों में से एक है क्योंकि एक लड़की में 96% तक पानी होता है प्रति 100 ग्राम लोकी में 12 ग्राम तक कैलोरी पाया जाता है और इसमें फाइबर की मात्रा भी अधिक होती है जिससे आपको भूख कम लगता है और आपका वजन नियंत्रित रहता है।

See also  पत्तागोभी को स्वास्थ्य के लिए खतरा क्यों बताया जा रहा है? लोग इसका प्रयोग बन्द क्यों करने लगे हैं?

पेशाब की समस्याएं दूर करता है- लौकी का सेवन- लौकी से शरीर को ठंढक मिलती है। यह पेशाब में जलन से भी राहत दिलाती है। इसलिए जिन्हें पेशाब में जलन होती हो उन्हें हर रोज एक गिलास लौकी के रस का सेवन से आराम मिल सकता है।

पीलिया में फायदेमंद होता है लौकी- लौकी का सेवन लिवर में सूजन का भी अच्छा इलाज है। पीलिया और लिवर की सूजन से जुड़ी अन्य बीमारियों में लौकी का रस बहुत फायदेमंद है।

Leave a Reply

%d bloggers like this: