? व्हाट्सऐप  भग्वद गीता ? 
   
हे पार्थ,
||  तुम पिछले मेसेज का पश्चाताप     मत करो || 
|| तुम अगले मेसेज की चिंता भी मत करो || 
|| बस अपने करंट मेसेज से ही प्रसन्न रहो || 
|| तुम जब नहीं थे, तब भी ये मेसेजो का चलन रहा था || 
|| तुम जब नहीं होगे, तब भी ये मेसेजो का चलन चलता रहेगा || 
|| जो मेसेज आज तुम्हारा है, कल किसी और का था || 
|| वो कल किसी और का होगा || 
|| तुम इसे अपना समझ कर मगन हो रहे हो || 
|| यही तुम्हारे समस्त दुखों का कारण है || 
|| बहुत बढ़िया ? लाइक ? धन्यवाद ? जैसे शब्द अपने मन से निकाल दो || 
|| निष्काम भाव से मैसेज करो.. फिर देखो तुम इस व्हाट्सऐप रूपि भवसागर में रहते हुए भी इस के समस्त कुप्रभावों से दूर रह कर स्वर्ग लोक को प्राप्त होगे  || 
राधे – राधे ??????

See also  शान्ति | मुंशी प्रेमचंद | हिंदी कहानी

???????? जन्म लिया है तो सिर्फ साँसे मत लीजिये, जीने का शौक भी रखिये..  और whatsapp join किया हैं तो  चुप मत बैठिए… कुछ न कुछ भेजते रहिये…..     कुछ रिश्ते भगवान बनाता है …..  और कुछ रिश्ते whatsapp

??????????
      
     यदा यदा हि मोबाइलस्य
        ग्लानिर्भवति सिग्नलः
आउट ऑफ रीच सूचनेन
        त्वरित जागृत संशयाः ।

See also  दिल की रानी | मुंशी प्रेमचंद | हिंदी कहानी

विच्छेदितं संपर्का:
      कलहं मात्र भविष्यति।
तस्मात चार्जिंग एवं रिचार्जिंग,
      कुर्वंतु तव सत्वरं।।

मनसोक्तम् चॅटिंगं
      हास्यविनोदेन टेक्स्टिंगं।
सत्वर सत्वर फाॅरवर्डिंगं,
      अखंडितं सेवाः प्रार्थयामि।।

टच स्क्रीनं नमस्तुभ्यं
       अंगुलीस्पर्शं क्षमस्वमे।
प्रसन्नाय इष्टमित्राणां,
       अहोरात्रं मेसेजम् करिष्ये॥

इति श्री मोबाईल स्तोत्रम् संपूर्णम्
       
        ॐ शांति शांति शांति:
             ॥शुभम् भवतु॥

See also  कवच | मुंशी प्रेमचंद | हिंदी कहानी

“रोज सुबह शाम इसका ३ बार जाप करें तो Internet की सर्विस अखंड बनी रहती है और आपका Mobile सदा निरोगी रहता है।
?????

Leave a comment

Leave a Reply