Kya Pataa Lyrics | Drishyam | Arijit Singh

Kya Pataa Lyrics | Drishyam | Arijit Singh Lyrics

Kya Pataa is a song from the hindi album/film “Drishyam. This song is sung by Arijit Singh. Its music is composed by Vishal Bhardwaj. And the lyrics are penned by Gulzar.

Kya Pataa Lyrics in Hindi

ख़ामोश रहने में दम घुटता है   
और बोलने से ज़बां छीलती है 
डर लगता है नंगे पाऊँ मुझे 
कोई कब्र पाऊं तले हिलती है 
परेशान हूँ ज़िन्दगी से 

क्या पता कब कहाँ से मारेगी ज़िन्दगी 
क्या पता कब कहाँ से मारेगी ज़िन्दगी 
बस के मैं, ज़िन्दगी से डरता हूँ 
बस के मैं, ज़िन्दगी से डरता हूँ 
मौत का क्या है, एक बार मारेगी 

धूल उड़ने लगती है जब शाम की 
सब कांच भर जाते हैं गर्द से 
मैं डरता हूँ, मैं डरता हूँ 
दिल जब धड़कने से थकने लगे 
नींद आने लगती है तब दर्द से 
अनजान हूँ ज़िन्दगी से 

क्या पता कब कहाँ से मारेगी ज़िन्दगी 
क्या पता कब कहाँ से मारेगी ज़िन्दगी 
बस के मैं ज़िन्दगी से डरता हूँ 
बस के मैं ज़िन्दगी से डरता हूँ 
मौत का क्या है 
एक बार मारेगी

Kya Pataa Lyrics Transliteration (English)

Khamosh rehne mein dum ghutta hai
Aur bolne se zabaan chhilti hai
Darr lagta hai nange paaon mujhe
Koi kabr paaon tale hilti hai
Paresaan hoon zindagi se

Kya pataa kab kahaan se, maaregi zindagi
Kya pataa kab kahaan se, maaregi zindagi
Bas ke main zindagi se darta hoon
Bas ke main zindagi se darta hoon
Maut ka kya hai..
Ek baar maaregi..

Dhool udne lagti hai jab shaam ki
Sab kaanch bhar jaate hain gard se
Main darta hoon
Main darta hoon
Dil jab dhadakne se thakne lage
Neend aane lagti hai tab dard se
Anjaan hoon zindagi se

Kya pata kab kahaan se maaregi zindagi
Kya pata kab kahaan se maaregi zindagi
Bas ke main zindagi se darta hoon
Bas ke main zindagi se darta hoon
Maut ka kya hai..
Ek baar maaregi..

Kya Pataa Song Information

Kya Pataa Song Information

SongKya Pataa
SingerArijit Singh
AlbumDrishyam
LyricistGulzar
MusicVishal Bhardwaj
LanguageHindi
Music LabelZee Music Company

Kya Pataa Video

Kya Pataa Video

%d bloggers like this: